followers

शुक्रवार, 12 अगस्त 2011

सही समय...


जब ...सही समय पर चलती है रेलगाड़ी
बड़ा सकून मिलता है ....यात्रियों को

जब ... सही समय पर लौट आते है बच्चे
बड़ा सकून मिलता है ....माता-पिता को

जब सही समय पर होती है वर्षा
बड़ा सकून मिलता है ... किसानों को

आइये ...
हम सब अपने- अपने काम
सही समय पर करें ....
पुरे समाज को सकून मिलेगा //

9 टिप्‍पणियां:

  1. वाह ...
    बहुत खूबसूरत रचना
    हर पंक्ति बेमिसाल ..।

    उत्तर देंहटाएं
  2. आपकी रचनात्मक ,खूबसूरत और भावमयी
    प्रस्तुति कल के तेताला का आकर्षण बनी है
    तेताला पर अपनी पोस्ट देखियेगा और अपने विचारों से
    अवगत कराइयेगा ।

    http://tetalaa.blogspot.com/

    उत्तर देंहटाएं
  3. Sahi samay par kam hone se sabko sukun milta hai....
    Bahut khub
    jai hind jai bharat

    उत्तर देंहटाएं
  4. मैंने भी सही समय पे आपकी रचना पे टिप्पणी की ...आपने बिलकुल सटीक बात कही....समय की महत्ता समझनी चाहिए

    उत्तर देंहटाएं
  5. बबन जी आपने यह बात बिलकुल सही समय पर की है पूरे देश को सही समय सटीक सन्देश देकर सच में आपने स्वतंत्रता-दिवस का तोहफा दिया है ...बधाई जय हिंद

    उत्तर देंहटाएं
  6. बहुत सार्थक प्रस्तुति
    , स्वाधीनता दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं
    मेरे ब्लॉग पर भी पधारने का कष्ट करें .

    उत्तर देंहटाएं

मेरे बारे में