followers

बुधवार, 23 मई 2012

आग उगल रही आकाश

( बाल कविता लिखना भी आसन नहीं  होता, मैंने एक प्रयास किया है ) 

तप  रही है  सारी  धरती  
आग उगल रही आकाश //

 क्या पीयेगें ,   वन के प्राणी 
कहाँ टिकेगें , सारे  नभचर 
सिकुड़ गयी है पेट सभी की 
सूख गयी है अब सारी  घास //

सूख  गए सब ताल- तल्लैया 
और मर गयी मछली   रानी 
दादा-दादी हैं सब लथ -पथ
अब मैं जाऊ किसके  पास //

16 टिप्‍पणियां:

  1. vednaa se bhare shabd,,,,,baban ji atyant maarmik kavitt .

    उत्तर देंहटाएं
  2. शुक्रिया सुमन जी .... हौसला आफजाई करती रहे

    उत्तर देंहटाएं
  3. बब्बन जी ... बाल कविता ... कितनी सहज होनी चाहिए आज पता चला

    उत्तर देंहटाएं
  4. प्रशंशनीय प्रयास .कम लोग ही लिख रहें हैं बाल गीत .

    लिखो भैया बाल गीत ,
    करो सबसे प्रीत ,
    छोड़ लड़ाई झगडा ,
    बनो सके मीत .कृपया यहाँ भी पधारें -
    ram ram bhai
    बुधवार, 23 मई 2012
    ये है बोम्बे मेरी जान (अंतिम भाग )
    http://veerubhai1947.blogspot.in/
    यहाँ भी देखें जरा -
    बेवफाई भी बनती है दिल के दौरों की वजह .
    http://kabirakhadabazarmein.blogspot.in/

    उत्तर देंहटाएं
  5. जिस दुखदायी स्थिति वर्णन आपने कविता के माध्यम से किया है, यह दुखद स्थिति के सृजनकर्ता और कोई नहीं हम सब ही हैं... स्वार्थ में वशीभूत आखें भविष्य के इस स्थिति को देख ही नहीं पायी आज हम दुखी हैं... प्रकृति व्यक्ति और सभी प्राणी के सुख-समृद्धि के लिए सब कुछ दिया पर विवेकहीनता हमें आज इस स्थिति में खड़ा कर दिया है की हम खुद से पूछ रहे हैं कि अब कहीं जाएँ!!!

    उत्तर देंहटाएं
  6. बहुत सुन्दर ....मन खुश हो गया पढ़ कर

    उत्तर देंहटाएं
  7. KHUBSURAT BAAL GEET. BHW PRADHAN KAM SHABDON ME PRAKRITI KA SUNDAR WARANAN
    BADHAI SWIKAREN.

    उत्तर देंहटाएं
  8. मौसम ही गर्म है,
    सुंदर अभिव्यक्ति,

    MY RECENT POST,,,,,काव्यान्जलि,,,,,सुनहरा कल,,,,,

    उत्तर देंहटाएं
  9. आभार शेखर जी ... आशा है मेरी बाल-कविता सबका मोहेगी

    उत्तर देंहटाएं
  10. सुंदर.......सीधी.......सरल................

    बधाई.
    अनु

    उत्तर देंहटाएं
  11. सूख गए सब ताल- तल्लैया
    और मर गयी मछली रानी
    दादा-दादी हैं सब लथ -पथ
    अब मैं जाऊ किसके पास //

    प्रकृति का सुन्दर चित्रण.

    उत्तर देंहटाएं

मेरे बारे में