followers

मंगलवार, 22 मार्च 2011

तालाब के ऊपर खेती (एक अभिनव प्रयोग )

लगातार हो रहे विकास कार्यों यथा सड़कों ,फैक्ट्रियों, स्कुल , कालेजों के बनने से कृषि भूमि के क्षेत्रफल में लगातार ह्रास हो रहा है । कृषि भूमि के बढ़ोतरी के बारे में आज किसी का ध्यान नहीं है । मेरा यह प्रयोग कृषि भूमि के विकास में योगदान देगा ।
विकास कार्यों का सबसे बुरा असर भूमिगत जल स्तर पर पड़ता है । वर्षा का जल धीरे धीरे फ़िल्टर हो कर ज़मीं के नीचे जाता है । वर्षा का जल जितनी देर तक ज़मीं पर टिका रहेगा, फ़िल्टरेशन की मात्र उतनी ही ज्यादा होगी । उदहारण स्वरुप बिहार दरभंगा ,मधुबनी ,चंपारण जिलों में अत्यधिक मात्र में तालाब होने के कारण वहाँ के भूमिगत जलस्तर में कोई खास गिरावट नहीं हुआ है , परन्तु नालंदा ,अरवल ,जहानाबाद ,औरंगाबाद शेखपुरा ,बांका इत्यादि जिलों में भूमिगत जलस्तर की स्थिति बहुत ही दयनीय है ।
विकास कार्यों के होने से , ज़मीन पर फ़िल्टरेशन क्षेत्रफल घट रहा है ।

कृषि भूमि में बढ़ोतरी कैसे :

तालाब खुले होने से अत्यधिक मात्रा में वास्पीकरण होता है और तालाब फरबरी मार्च के महीने में सूखजाता है । तालाब को एक निश्चित आकर देकर अगर हम ऊपर से कंक्रीट की छत ढाल दे और छत के ऊपर तीन चार फिट मिटटी डाल दे, तो इसके निम्न फायदे हो सकते है ....
१। कृषि भूमि के क्षेत्रफल में बढ़ोतरी
२ वर्षा जल का भारी मात्रा में संचयन और बाढ़ में कमी

३ जल का वास्पीकरण बहुत ही कम होगा ,जिसके कारण बहुत दिनों तक पानी उपलब्ध रहेगा ।
४भारी मात्रा में फिल्टरेशन होने के कारण भूमिगत जलस्तर काफी ऊपर आ जाएगा
५ तालाब के ऊपर कंक्रीट छत पर डाली गई मिटटी एवं अगल बगल के खेतों में कृषि कार्य के लिए भारी मात्रा में सिंचाई जल उपलब्ध होगा ।

8 टिप्‍पणियां:

  1. आप का दृष्टिकोण सही है पर शुरुआती कीमत बहुत जादा होने से इस पर अमल करना बहुत मुश्किल होगा|

    उत्तर देंहटाएं
  2. बबन जी ,आपका ये लेख सचमुच अपने आप में अनूठा प्रयोग दर्शाता है ,,,प्रक्टिकली यह कितना संभव है यह खेती करने वाले किसान संभव है

    उत्तर देंहटाएं
  3. आपकी रचनात्मक ,खूबसूरत और भावमयी
    प्रस्तुति भी कल के चर्चा मंच का आकर्षण बनी है
    कल (24-3-2011) के चर्चा मंच पर अपनी पोस्ट
    देखियेगा और अपने विचारों से चर्चामंच पर आकर
    अवगत कराइयेगा और हमारा हौसला बढाइयेगा।

    http://charchamanch.blogspot.com/

    उत्तर देंहटाएं
  4. सचमुच अनूठा प्रयोग
    होली की सपरिवार रंगविरंगी शुभकामनाएं |
    कई दिनों व्यस्त होने के कारण  ब्लॉग पर नहीं आ सका

    उत्तर देंहटाएं
  5. प्रयोग तो अनूठा है, पर क्या ऐसा होना संभव है?
    अच्छा प्रयास..

    उत्तर देंहटाएं
  6. सफल हो जाये तो बहुत काम आएगा यह अनूठा प्रयोग....

    उत्तर देंहटाएं
  7. आपके ब्लॉग पर आकर अच्छा लगा , आप हमारे ब्लॉग पर भी आयें. यदि हमारा प्रयास आपको पसंद आये तो "फालोवर" बनकर हमारा उत्साहवर्धन अवश्य करें. साथ ही अपने अमूल्य सुझावों से हमें अवगत भी कराएँ, ताकि इस मंच को हम नयी दिशा दे सकें. धन्यवाद . हम आपकी प्रतीक्षा करेंगे ....
    भारतीय ब्लॉग लेखक मंच
    डंके की चोट पर

    उत्तर देंहटाएं

मेरे बारे में