followers

शुक्रवार, 5 अक्तूबर 2012

आप चाय पीयेंगे क्या


 मेरे मित्र
मुझे पहले चाय  पर बुलाते थे

कुछ दिनों बाद ..
उनके यहां जाकर
पी लेता  था चाय

अब .. जब उनके यहाँ
जाता हूँ ..
वे पूछते है ...
चाय  पीयेंगे क्या

9 टिप्‍पणियां:

  1. इस मार से कोई नहीं बचा ....बहुत सही लिखा आपने

    उत्तर देंहटाएं
  2. भैया जी
    आब नहीं आदर नहीं नैनन नहीं सनेह
    तुलसी तहां न जाइये कंचन बरसे मेह
    आप भूल गए आप ही भुगतेंगे

    उत्तर देंहटाएं
  3. Aap ke mitra sahi karte hai.Jab koi Chay pe bulata hai woh aap ke saath ke sambandh ko thoda majboot karna chahta hai.Oosi me sirf Dawat hi kaafi hai.Agar aap oose routine banado to yehi hoga jo aap ne ANT me likha hai.

    उत्तर देंहटाएं
  4. महगाई पर एक अच्छी कविता है सर जी

    उत्तर देंहटाएं

मेरे बारे में