followers

शनिवार, 2 मार्च 2013

तो समझो ! आ गई होली

जब बोले कोई कौआ
कोयल सी मीठी बोली
तो समझो ! आ गई होली

जब आग लगे पुरवाई में
छाये उमंग, बिन खाए गोली
तो समझो ! आ गई होली

जब प्यारी-प्यारी साली
आँखों से मारे गोली
तो समझो ! आ गई होली

जब भैया , भाभी से करते हथरस
और फट जाए उनकी चोली

तो समझो ! आ गई होली

8 टिप्‍पणियां:

  1. आदरणीय , बड़े भाई ... बहुत ही शानदार .. प्रस्तुति !!

    उत्तर देंहटाएं
  2. वाह! सच में होली आ गयी...बहुत सुन्दर

    उत्तर देंहटाएं
  3. वाह!
    आपकी यह प्रविष्टि कल दिनांक 04-03-2013 को सोमवारीय चर्चा : चर्चामंच-1173 पर लिंक की जा रही है। सादर सूचनार्थ

    उत्तर देंहटाएं
  4. होली का रंगीन भूत सर आँखों चढ़ बोल रहा है

    उत्तर देंहटाएं
  5. बहुत खूब सुन्दर लाजबाब अभिव्यक्ति।।।।।।

    मेरी नई रचना
    आज की मेरी नई रचना आपके विचारो के इंतजार में
    पृथिवी (कौन सुनेगा मेरा दर्द ) ?

    ये कैसी मोहब्बत है

    उत्तर देंहटाएं
  6. वाह.....सच ही होली पास
    आ गई लगती है

    उत्तर देंहटाएं
  7. भाई साहब आपको फागुन का रंग अभी से चढ़ गया

    उत्तर देंहटाएं

मेरे बारे में