followers

रविवार, 31 अक्तूबर 2010

दिलासा

दिलासा
एक दवा है
शब्दों की दवा
जिसमे कोई केमिकल नहीं ॥

खत्म हो जाती है
कर्मचारियों की हड़ताल
बंद हो जाता है
छात्र -आन्दोलन
क्षण में बदल जाता है
एक बच्चे का रुदन
मुस्कराहट में
जब पिलाई जाती है
दिलासा की एक घुट ॥

रुक जाता है
विधवा विलाप /उग्र -प्रदर्शन
नेता पुनः वोट मांग लेते है
दिलासा की दवा पिला कर
यह दवा
मानो राम -वाण हो ॥

17 टिप्‍पणियां:

  1. बिल्कुल सही चिन्तन्……………दिलासा के दो शब्द ही ज़िन्दगी की ना जाने कितनी मुश्किलों के हल निकाल देते हैं और किसी के लिये जीने का सम्बल बन जाते हैं तो राम बाण औषधि तो हुये ही।

    उत्तर देंहटाएं
  2. शुक्रिया वंदना जी ..हौसला आफजाई करते रहे

    उत्तर देंहटाएं
  3. Dilasa-ek swayam mein hi zindagi ka paryay hai! Bhookhe ko bhojan ki dilasa naye prano ka sanchar karta hai. Berojgar ko rojgar ki dilasa usmein khushiyon ka sanchar karti hai!Atah yeh bilkul satya hai ki dilasa ke teen shabd Jeewan ke liye ek aushadhi ka kaam karte hain, bas woh netaon wala dilasa na ho jo achhe khase aadmi ko badhal bana deta hai!

    उत्तर देंहटाएं
  4. हमारे दोमुही राजनेताओं के झूठे दिलासों को धूल-धूसरित करती आपकी रचना की जितनी तारीफ़ कि जाये कम है..आदरणीय बबन सर को मेरा सादर प्रणाम...``जय श्री राम``..``ॐ हनुमते नमः``

    उत्तर देंहटाएं
  5. बबनजी, दिलासा दुनिया में सब परेशानियों से उबरने में निजात दिलाता है.....चाहे वे मानसिक हो या शारीरिक.....सब दवाईयों पर भारी पड़ता है .....क्यूंकि यह हमे मनोबल प्रदान करता है...यदि हमारा मनोबल पक्का है तो हम किसी भी परिस्थिति से जूझ सकते हैं..

    उत्तर देंहटाएं
  6. Wah Baban bhai Dilaase peer hi to Sarkare chalti hai, dilaase per hi aaj desh chal raha hai, aam janta ko her baat per ek meetha sa dilasha de diya jaata hai, aur ham usi dilaase ke bhram me jeete jaate hai khush hoker apni jindagi.......Yeh vo marj hai jo dava bhi khud hai.............

    उत्तर देंहटाएं
  7. बहुत ही अच्छा है आपका "दिलासा", आपने बिल्कुल सही कहा है सचमुच एक राम ब‍ान जैसी अचुक दवा है दिलासा जिसका प्रयोग हर एक आदमी समयानुकुल करता है पर नेताओं द्वारा किया गया इसका प्रयोग अक्सर छलावा साबित हुआ है!

    उत्तर देंहटाएं
  8. "दिलासा"....ye sabd to sunane me bahut hi acha lagata hai...agar hum is sahi istemal kare to dawa ka kaam karega, aur gatal istemal kare to MIDDA JAHAR ka kaam karaeg. Vartaman samay me ham ise MIDDA JAHAR KE RUP ME HI ISTEMSAL KAR RAHE HI. JO SAMAJ KE LIYE BAHUT HI HANIKARAK HAI.
    Bade Bhai Shri Baban Ji, aap ki ye rachan bahut hi sarahaniya hai.Humme is rachana se sikh lena chahiye aur "दिलासा" ko sifr RAM VAN rupi dawa ke rup me hi istemal karana cahiye...aap ki ye racha samaj me badah rahi dhokha dhadi ko bhi darsharaha hai...is rachana ka Jitana bhi tarif ki jai...shayad kam hi hogi...Haradik Dhanyavaad.

    उत्तर देंहटाएं
  9. जी दिलासा तो एक भरोसा है चाहे झूठा हो या सच्चा... बहुत खूब बबब जी

    उत्तर देंहटाएं
  10. Sach kaha.....dilasa yi voh ehsas hai jo man ko kuch sochne par prarit karta hai....

    उत्तर देंहटाएं
  11. शब्दों की दवा है और वो भी केमिकल रहित तो राम बाण हुई ना..यही तो जीने का संबल है..

    उत्तर देंहटाएं
  12. Vastav mein ramban dawa hai ye dilasa jo kisi ke dukh-dard ko kafi had tak kam to kar hi deta hai..
    isse insaan ko mansik shanti milti hai ...ek bahut sundar rachna ...thanks Baban ji ....

    उत्तर देंहटाएं
  13. " दिलासा सचमुच एक दवा है ,"एक और सार्थक कविता,सहज,सरल
    आपके स्वाभाविक अंदाज़ में,अति सुन्दर आपका प्रयास,
    दिलासा--करुणा है,सांत्वना है,स्नेह है,शांति है,भरोसा है,

    उत्तर देंहटाएं
  14. बबन जी......दिलासा ही शायद बचा हैं आम आदमी के लिए इस देश में.........देश को तो यह नेता लूटने में लगे हैं......आजकल जिन लोगो को दिलासे पसंद नहीं आते.वो वोट ही नहीं करते............और जिन्हें पसंद आते हैं वो वोट कर आते हैं..इसलिए ५०% वोट ही पड़ते हैं.............और जिसने उसमे से ५५% के करीब वोट ले लिये वो जीत गया...........मतलब कि कुल आबादी का सिर्फ २५% .........इतने लोग ही सरकार बनाते हैं....यह हाल हो गया हैं दिलासो से.......अब कब तक यह दिलासे इस देश को चलाने में कामयाब रहते हैं..यह हम सबको देखना हैं.........एक अच्छा विषय बबन जी.........

    उत्तर देंहटाएं
  15. बहुत खूब कहा... दिलासा ही भरोसा है.

    उत्तर देंहटाएं
  16. बबनजी,
    देश के शीर्षस्थ राजनेता मंत्रीमंडल विस्तार की दिलासा दे असंतुष्टों को भरोसा देकर देश का शाशन सालों साल चला देते हैं...

    उत्तर देंहटाएं

मेरे बारे में